WhatsApp Image 2024-04-02 at 11.08.56 PM
29
30
31
32
WhatsApp Image 2024-02-11 at 1.44.12 AM
0bfb0ce8-d486-4b0d-b441-d71ed666c3a4
38b9245b-2238-46b6-95ea-2fdf227d5b25
previous arrow
next arrow
WhatsApp Image 2024-04-02 at 11.08.56 PM
1
2
3
4
5
6
7
8
9
10
11
12
13
14
15
16
17
18
19
20
21
22
23
24
25
26
27
28
WhatsApp Image 2024-02-11 at 1.44.12 AM
previous arrow
next arrow

Breaking
बालको सीईओ टॉउनहॉल में सुरक्षा संस्कृति पर हुई चर्चाएनटीपीसी कोरबा ने जेंडर सेंसिटाइजेशन वर्कशॉप के माध्यम से कर्मचारियों को सशक्त बनाया।सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने के उद्देश्य से यातायात प्रबंधन की बदली कमानछत्तीसगढ़ शासन ने किक बाक्सिंग खेल को दी विभागीय मान्यतासंगठन सर्वोपरि है – पवन साय भाजपा जिला कोरबा की विस्तारित कार्य समिति हुई संपन्न।थाना सिटी कोतवाली पुलिस के द्वारा चाकू लहराते हुए आरोपियों पर की गई कार्यवाहीबुखार और पीलिया की वजह से हुई पहाड़ी कोरवा सहित एक अन्य किशोरी की मौतकोरबा पुलिस की कार्यवाही में दो भाइयों को अलग-अलग जगह से दबोचा गयाकरतला थाना क्षेत्र के ग्राम नोनबिर्रा में क्षणिक विवाद हत्या के प्रयास का प्रकरण दर्जएनटीपीसी कोरबा ने अंतर-जिला जूनियर गर्ल्स फुटबॉल चैम्पियनशिप और कोचिंग कैंप का शुभारंभ किया

Uncategorized

वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी सक्ती ने फसल बीमा जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

फसल बीमा कराने कि अंतिम तिथि है 16 अगस्त


सक्ती।   प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना जागरूकता रथ को कलेक्टर श्रीमती नुपुर राशि पन्ना द्वारा 07 अगस्त को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया जा चुका है और इसी कड़ी में ब्लाक स्तर में भी प्रचार गाड़ी के लिए वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी सक्ती द्वारा हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया साथ ही अहम बैठक रखा गया । यह रथ सक्ती विकासखंड में गांव-गांव जाकर किसानों को फसल बीमा योजना की जानकारी उपलब्ध करायेगा। जिले में इस वर्ष बजाज एलायंस कम्पनी को अधिकृत किया गया है। पहली बार जिले में धान सिंचित असिंचित, मक्का, उड़द और मूंगफली फसल को भी अधिसूचित किया गया है। फसल बीमा कराने की अंतिम तिथि 16 अगस्त तक है। नियमित तिथि तक कृषक अपने फसल का बीमा करा सकता है। सभी ऋणी अऋणी कृषक अपने क्षेत्रीय ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी, सेवा सहकारी समिति, कम्पनी के प्रतिनिधि या पटवारी से सम्पर्क कर खरीफ फसल का बीमा करा सकते हैं। किसी भी प्राकृतिक आपदा से फसल को क्षति होता है तो फसल कटाई एवं थ्रेस होल्ड उपज के आधार पर बीमा कम्पनी द्वारा नुकसान का भरपाई किया जावेगा। वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी सक्ती ने बताया कि प्राकृतिक आपदा जैसे अतिवृष्टि, अवृष्टि , बादल फटना, ओला, पाला या प्रकृति जनित फसल नुकसान होने पर बीमा कम्पनी द्वारा भरपाई किया जायेगा। जागरूकता रथ में बीमा कम्पनी के प्रतिनिधि उपस्थित रहेंगे, कृषक आवश्यक दस्तावेज के साथ मौके पर ही फसल बीमा करा सकते हैं।
कलेक्टर श्रीमती नूपुर राशि पन्ना द्वारा अधिक से अधिक कृषकों को बीमा का लाभ लेने के लिए अपील किया गया है। किसी भी प्रकार की परेशानी हो तो क़ृषि विभाग के मैदानी अमले अथवा सेवा सहकारी समिति से सम्पर्क किया जा सकता है। इस अवसर पर वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी श्री जितेन्द्र साहू, सौरभ उपाध्याय सहायक तकनीकी अधिकारी , ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी में रवि चंद्रा, अमित लहरे, एम आर पैकरा, ब्लाक बीमा प्रतिनिधि एवं समस्त किसान उपस्थित रहे।।


Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button